Connect with us

More

बरसात के मौसम में इंटरनेट स्लो क्यों हो जाता है?

Published

on

बरसात के मौसम में इंटरनेट स्लो क्यों हो जाता है?

क्या आप जानते हैं जैसे ही बरसात का मौसम शुरू होता है और हमारे मोबाइल का इंटरनेट की स्पीड कम हो जाती है आखिर ऐसा क्यों होता है और इंटरनेट का बरसात से क्या संबंध है? आइए जानते हैं।

बारिश में मोबाइल इंटरनेट स्पीड कम होने का कारण

बरसात के मौसम में इंटरनेट स्लो होने का सबसे मुख्य कारण बारिश होती है। जब हम घर में बैठकर बरसात के मौसम में इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं और बाहर बारिश होती है तो हमारे घर के बाहर लगे टावर से सिग्नल की फ्रीक्वेंसी आने में प्रॉब्लम होती है जिससे कि जो माइक्रो तरंग होती हैं वह आपके मोबाइल तक नहीं पहुंच पाती हैं जिसकी वजह से इंटरनेट स्लो हो जाता है।
हमारे मोबाइल में चलने वाले इंटरनेट का कारण सेल टावर बरसाने वाली तरंग होती हैं इन्हीं तरंगों के कारण हम अपने मोबाइल में इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं। जब बारिश होती है तो बारिश की बूंदे फ्रीक्वेंसी के मार्क में बाधा बनती हैं जिससे कि यह तरंगे हमारे फोन तक आसानी से नहीं आती और इनकी क्षमता कम हो जाती है जिसकी वजह से इंटरनेट की स्पीड कम हो जाती है।

बरसात में इंटरनेट स्लो होने के अन्य कारण

बरसात के मौसम में इंटरनेट की स्पीड कम होने का और भी कारण है जैसे कि बरसात के कारण लोग घर से बाहर नहीं जाते और घर में ही बैठकर मनोरंजन के लिए इंटरनेट का इस्तेमाल करते रहते हैं। लोग घर में बैठकर यूट्यूब, फेसबुक, व्हाट्सएप, नेटफ्लेक्स, अमेजॉन और प्राइम हॉटस्टार जैसी ऐप्स का इस्तेमाल करते रहते हैं और इंटरनेट का यूज अधिक करते हैं जिससे कि इंटरनेट की बैंडविथ कम हो जाती है और इंटरनेट की स्पीड स्लो हो जाती है।

इंटरनेट के माध्यम

आज हम इंटरनेट का उपयोग कई माध्यम से कर सकते हैं जिसके मुख्य माध्यम तीन है। पहला आप अपने मोबाइल में सिम लगा कर इंटरनेट का उपयोग कर सकते हैं। दूसरा आप लैंडलाइन से इंटरनेट का इस्तेमाल कर सकते हैं जिसको हम ब्रॉडबैंड के नाम से जानते हैं और तीसरा ऑप्शन है ऑप्टिकल फाइबर केबल, इससे आप सबसे अधिक स्पीड में इंटरनेट का इस्तेमाल कर सकते हैं।

ऑप्टिकल फाइबर इंटरनेट 

यह इंटरनेट उपयोग करने की सबसे आधुनिक तकनीक है। ऑप्टिकल फाइबर में इंटरनेट लाइट के माध्यम से चलता है इसमें तरंगों को लाइट में कन्वर्ट करके मॉडेम अथवा राउटर में भेजी जाती हैं जिससे कि इंटरनेट अधिक स्पीड में चलता है। बरसात के मौसम में इंटरनेट बारे में बात करें तो ऑप्टिकल फाइबर केबल से इंटरनेट चलाने पर इसकी स्पीड पर कोई फर्क नहीं पड़ता। क्योंकि इसमें तरंगे लाइट के माध्यम में चलती है जिससे बारिश के पानी का इस पर  कोई असर नहीं होता और न इसकी तरंगों में किसी भी प्रकार की क्षति होती है, जिससे इंटरनेट स्पीड अच्छी मिलती है।

क्या लैंडलाइन इंटरनेट पर भी बारिश का असर होता है?

हम जानते हैं की लैंडलाइन इंटरनेट के तार जमीन के नीचे गड़े हुए होते हैं जिसके कारण बारिश का असर पर अधिक नहीं होता। लेकिन फिर भी जमीन में दबे होने के कारण या किसी अन्य कारण से इन वायर के ऊपर के कवर कट या छिल जाते हैं जिसके कारण से इनमें पानी जाने लगता है जोकि इंटरनेट की तरंगों को आपके घर तक पहुंचने में अवरुद्ध पैदा करता है और आपका इंटरनेट स्लो हो जाता है।

Read More:

Click to comment

Leave a Reply

Trending